Advertisement
7489697916 for Ad Booking Advertisement
7489697916 for Ad Booking
अन्य बलिया

बाढ़ सुरक्षा, वैक्सिनेशन, राशन वितरण व विकास कार्यों की समीक्षा

-प्रभारी मंत्री अनिल राजभर ने अधिकारियों के साथ की बैठक
-अस्पतालों पर जिसकी जहां तैनाती है, वहां प्रतिदिन रहें मौजूद

बलिया : प्रभारी मंत्री अनिल राजभर ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में अधिकारियों के साथ बैठक कर राशन वितरण, बाढ़ से सुरक्षा की तैयारी, वैक्सिनेशन व विकास कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने जोर देकर कहा कि ब्लॉक, तहसील, सीएचसी-पीएचसी पर जहां जिसकी तैनाती है वहां प्रतिदिन काम करें, यह सुनिश्चित कराया जाए। सभी अधिकारी फील्ड में भी जाएं। इससे अनेक समस्याएं सामने आती है जिसका समाधान कर जनता को राहत दिलाने का मौका मिलता है। उन्होंने कहा कि नई स्थापित नगर पंचायतों में डूडा द्वारा संचालित योजना व मुख्यमंत्री मलिन बस्ती योजना के तहत तेजी से कार्य कराया जाए।

से निपटने की तैयारियों की समीक्षा करते हुए सुरक्षात्मक कार्यों की परियोजनाओं के बारे में जानकारी ली। कहा कि बाढ़ सुरक्षा पर मुख्यमंत्री जी का भी विशेष ध्यान है। डेंजर जोन में लगातार नजर रखी जाए। उच्चाधिकारी भी ऐसे क्षेत्र में जाते रहें। विधायक सुरेंद्र सिंह ने ड्रेजिंग कार्य में आ रही बाधाओं का तत्काल निराकरण कराने की बात कही।
प्रभारी मंत्री ने कहा कि राशन वितरण पूरी पारदर्शिता के साथ हो। जो कार्रवाई हो उसकी जानकारी प्रेस में जरूर दें। डीएसओ केजी पांडेय ने जुलाई महीने में दुकानों के निरस्त व निलम्बन की कार्रवाई के बारे में बताया। यह भी बताया कि टोटल 1432 दुकानों में केवल 9 दुकाने शेष है, जहां चयन बाकी है। यह भी 15 अगस्त से पहले हो जाएगी। बिजली विभाग में ट्रांसफार्मर के बार-बार जलने की जानकारी मिलने पर प्रभारी मंत्री ने सवाल किया। कहा, मानक के साथ रिपेयर हो तो यह समस्या दूर हो जाएगी। टेक्निकल टीम से वर्कशॉप के कार्य की जांच कराकर रिपोर्ट दें।

बाढ़ प्रभावित गांव में वैक्सिनेशन हो तेज

प्रभारी मंत्री ने वैक्सिनेशन से जुड़ी पूछताछ की। बताया गया कि अब तक 3.87 लाख को पहली डोज व 94,536 को दूसरी डोज सहित कुल 4.72 हजार लोगों को वैक्सीन लग चुकी है। विधायक सुरेंद्र सिंह के सुझाव पर प्रभारी मंत्री ने कहा कि ऐसे गांव, जो बाढ़ की वजह से एकदम घिरने या उन गांवों संपर्क कटने के कगार पर हैं, वहां सबसे पहले युद्ध स्तर पर वैक्सिनेशन कर लिया जाए। प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के संचालन से जुड़ी जानकारी ली। कहा कि गोल्डन कार्ड बनाने में जिले की स्थिति ठीक नहीं, इसमें सुधार लाया जाए। पर्याप्त धन आने के बाद भी सीएचसी-पीएचसी की स्थिति ठीक नहीं है, इसकी भी समीक्षा करने को कहा।

पंचायत भवन पर रोस्टर के हिसाब से बैठें लेखपाल-सचिव

मंत्री उपेंद्र तिवारी ने कहा कि पंचायत भवन पर अनिवार्य रूप से लेखपाल, सचिव एक या दो दिन बैठें। वहां बैठने का रोस्टर निर्धारित हो जाए। बिट का सिपाही भी वहां समय निर्धारित कर बैठे। जिस गांव के लिए जनसेवा केंद्र बना हो, वह उसी गांव में जरूर स्थापित हो। कहीं जगह न हो तो पंचायत भवन पर ही रहें, ताकि जनता का ऑनलाइन कार्य आसानी से वहीं हो सके। गांव में हुए विकास कार्यों का वर्षवार विवरण वाल पेंटिंग के माध्यम से सार्वजनिक रखा जाए, ताकि गांव के लोगों को उसकी पूरी जानकारी हो। विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा कि बैरिया व मुरली छपरा ब्लॉक में जो कार्य हुए हैं, उसकी सूची दे दिया जाए। उसकी जमीनी हकीकत परख कर जहां कमी होगी उसकी जानकारी दी जाएगी, ताकि दोषियों पर कार्रवाई हो सके। बैठक में विधायक सिकन्दरपुर संजय यादव, भाजपा जिलाध्यक्ष जयप्रकाश साहू, जिलाधिकारी अदिति सिंह, सीडीओ प्रवीण वर्मा, एसडीएम सदर जुनैद अहमद, डिप्टी कलेक्टर सीमा पांडेय समेत अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी थे।

Advertisement

7489697916 for Ad Booking